मिला नहीं है मेरा होना

Posted by Raqim

मिला नहीं है मेरा होना
ढूँढ लिया है कोना कोना

मेहनत करने में तौहीनी
सीख लिया है जादू टोना

किस्मत की तहरीर पढी जब
था लिखा किस्मत पे रोना

रोये दुनिया माँगे दौलत
रोये बच्चा देख खिलौना

साहिल होने का मतलब है
दरिया पाना दरिया खोना

काटने को बेताब सभी हैं
आता नहीं किसी को बोना

आखिर मिलना है मिट्टी में
राकिम फिर क्या चाँदी सोना

2 comments:

  1. इमरान अंसारी

    राकिम भाई 'खलील जिब्रान' पर आपकी टिप्पणी का तहेदिल से शुक्रिया आप जैसे लोग हौसला बढ़ाते हैं तभी ये मुमकिन हो पता है और हाँ हमारा नाम 'इरफ़ान' नहीं 'इमरान' है :-)

    आज पहली बार आपके ब्लॉग पर आना हुआ...........पहली ही पोस्ट दिल को छू गयी........कितने कम लफ़्ज़ों में कितने खुबसूरत जज्बात डाल दिए हैं आपने..........बहुत खूब...........आज ही आपको फॉलो कर रहा हूँ ताकि आगे भी साथ बना रहे|

    कभी फुर्सत में हमारे ब्लॉग पर भी आयिए- (अरे हाँ भई, सन्डे को भी)

    http://jazbaattheemotions.blogspot.com/
    http://mirzagalibatribute.blogspot.com/
    http://khaleelzibran.blogspot.com/
    http://qalamkasipahi.blogspot.com/


    एक गुज़ारिश है ...... अगर आपको कोई ब्लॉग पसंद आया हो तो कृपया उसे फॉलो करके उत्साह बढ़ाये|

  1. Nasimuddin Ansari

    रोये दुनिया माँगे दौलत
    रोये बच्चा देख खिलौना